Computerकम्प्युटर क्या है और इसके क्या उपयोग है ?

कम्प्युटर क्या है और इसके क्या उपयोग है ?

Read More

क्या आप जनना चाहते है कि कम्प्युटर क्या है ? Computer kya hai in hindi, तो आज हम कम्प्युटर से जुडी सभी महत्वपुर्ण चीज़ो को जानेंगे ।

कम्प्युटर का परिचय । Introduction to Computer

इस शब्द (कम्प्युटर) की उत्पत्ति कम्प्युट (Compute) से हुई है जो कि एक लैटिन शब्द है जिसका अर्थ गणक होता है । ये Airthmetical और Logical operations को बहुत ही तेज़ी से कर सकता है ।

यह एक Electronic Device है जो Data को स्वीकार करता है और उसे step-by-step process करके उसे Output के रुप मे प्रस्तुत करता है । कम्प्युटर को हिंदी मे संगणक कहा जाता है ।

कम्प्युटर क्या है ? What is a Computer ?

यह एक Electronic Device है जो डाटा को निर्देशानुसार input के रुप मे ग्रहण करता है और फिर उनका विश्लेषण कर निश्चित परिणामो को Output के रुप मे प्रदान करता है ।

कम्प्युटर का आविष्कार किसने किया ? Who invented the computer ?

इसके आविष्कार का श्रेय किसी एक व्यक्ति को देना उचित नही है क्योकि इसे बनाने मे बहुत सारे लोगो का योगदान है । समय-समय पर लोग आते गये और इसमे नई-नई चीज़ो को जोडते गये ।

हालांकि चार्ल्स बेवेज (Charles Babbage) को आधुनिक कम्प्युटर का जनक (Father of Modern Computers) कहा जाता है क्योंकि कम्प्युटर का आविष्कार और उसे बेहतर बनाने मे उनका योगदान सबसे ज़्यादा था ।

विश्व का सबसे तेज़ कम्प्युटर-

विश्व का सबसे तेज़ super computer, IBM द्वारा निर्मित Blue Gene है जो प्रति सेकेंड 478.2 ट्रिलियन calculations कर सकता है ।

भारत का सबसे तेज़ कम्प्युटर-

भारत का सबसे तेज़ super computer EKA है जो CRL (Computational Research Lab) द्वारा बनाया गया है और पुणे मे स्थित है । यह प्रति सेकेंड 118.90 ट्रिलियन calculations कर सकता है और ये विश्व का चौथा सबसे तेज़ Supercomputer है ।

कम्प्युटर के पार्ट्स । Parts of Computer

किसी कम्प्युटर के मुख्य हिस्सो (parts) को दो भाग मे बांटा जा सकता है-

  • बाहरी हिस्से । Outer Parts

इस हिस्से मे मुख्य रुप से Keyboard, Mouse, Joystick, Scanner होते है जिनका इस्तेमाल कम्प्युटर को निर्देश देने के लिये किया जाता है

  • आंतरिक हिस्से । Inner Parts

इसमे मुख्य रुप से Motherboard, RAM, ROM, और processing unit होता है जिनका इस्तेमाल कम्प्युटर निर्देशो का विश्लेषण करने के के लिये करता है ।

इसके अलावा कम्प्युटर के हिस्सो को तीन भागो मे बांटा गया है-

  • Input Device- जिन हिस्सो का प्रयोग कम्प्युटर को निर्देश या Command देने के लिये किया जाता है उसे Input Device कहते है । जैसे- Keyboard, Mouse, Scanner, Joystick, Magnetic Pen, Mic. etc.
  • Processing Unit- जिन हिस्सो का उपयोग कम्प्युटर दिये गये निर्देशो का विश्लेषण करने के लिये करता है उसे Processing unit कहते है। जैसे- Motherboard, RAM, ROM etc.
  • Output Device- जिन हिस्से का प्रयोग कम्प्युटर निर्देशो का विश्लेषण करने के बाद परिणाम देने के लिये करता है उसे Output Device कहते है । जैसे- Moniter, Printer, Headphone, Speaker etc.

कम्प्युटर की विशेषताए । Characteristics of Computer

आज की आधुनिक संसार पुरी तरह से कम्प्युटर पर निर्भर है । हर छोटे-बडे कामो मे इसकी सहायता ली जाती है जिसकी मुख्य कारण इसकी निम्न खुबिया है-

  • गति (Speed)- जिस किसी काम को करने मे एक सामान्य मनुष्य वर्षो तक का समय लेता है, कम्प्युटर उसे कुछ ही मिनटो मे पुरा कर देता है ।
  • स्वचालित (Automatic)- वैसे तो यह मनुष्य द्वारा दिये गये निर्देशो पर कार्य करता है परंतु एक बार निर्देश दे देने के बाद ये बिना किसी रुकावट के कार्य करता रहता है ।
  • शुद्धता (Accurate)- अगर इसको दिये गये निर्देश सही है तो ये कभी भी गलत रिजल्ट नही देता है । इसके द्वारा दिये गये परिणाम 100% सही होते है ।
  • भंडारण ( Storage)- यह दस्तावेजो को बिना किसी गलती के वर्षो तक Safe रख सकता है । इसकी Storage Capacity भी बहुत अधिक होती है । यह Internal Storage Device और External Storage Device दोनो माध्यम मे Data को store कर सकता है।
  • तीव्र गति से सही निर्णय लेना ( Quick and right decision)- तीव्र गति के साथ साथ ये सही निर्णय लेता है । इसके द्वारा लिये गये decisions कभी भी गलत नही होते है।

कम्प्युटर की सीमाए (Limitations of Computer)-

खुबिया होने के साथ साथ इसकी कुछ कमिया भी है जैसे-

  • बिजली पर निर्भर होना ( Dependency on Electricity)- यह पुरी तरह से बिजली पर निर्भर करता है । बिना इसके ये कोई काम नही कर सकता है और मात्र एक डब्बे की तरह रह जाता है।
  • निर्णय लेने मे असहाय (helpless to decide)- ये बस दिये गये निर्देशो पर कार्य करता है। इसमे सोचने-समझने की शक्ति नही होती है।
  • महंगा होना (Expensive) इनकी कीमत बहुत ज़्यादा होती है। और इनके रख-रखाव मे भी बहुत खर्च होता है। इनके parts भी बहुत कीमती होते है।

कम्प्युटर का उपयोग ( Uses of Computer)-

कंप्यूटर का उपयोग:- आज के समय मे हर जगह इसका उपयोग किया जा रहा है । हर छोटे-बडे काम मे इसका उपयोग किया जा रहा है जैसे-

  • सुचनाओ के आदान-प्रदान मे
  • स्कूल-कालेज़ मे
  • बैंको मे
  • वैज्ञानिक अनुसंधान मे
  • रेलवे और वायुयान के टिकट लेने मे
  • दुर-संचार विभाग मे
  • व्यापार मे
  • मनोरंजन कार्य मे
  • समाचार पत्र के कार्य मे

कम्प्युटर का वर्गीकरण । Classification of Computer

आकार और कार्य के आधार पर इसे मुख्यतः पांच भागो मे बांटा गया है-

  • मिनी कम्प्युटर (Mini Computer)
  • माईक्रो कम्प्युटर (Micro Computer)
  • मेंन फ्रेम कम्प्युटर (Main Frame Computer)
  • सुपर कम्प्युटर (Super Computer)
  • पर्सनल कम्प्युटर (Personal Computer)

Hardware के आधार इसे निम्न भागो मे बांटा गया है-

  • First generation Computers- यह 1940 मे आविष्कार किया गया था । इसमे Vaccum tubes का इस्तेमाल किया जाता था । इसका उपयोग 1956 तक चला।
  • Second generation Computers- इसका आविष्कार 1956 मे हुआ था । इनमे Vaccum tube की जगह छोटे transistors का प्रयोग होता था। ये transistors काफी छोटे और हल्के होने के साथ-साथ बिजली की खपत कम करते थे ।
  • Third generation computers- इनका उपयोग 1964 से 1971 के बीच किया गया । इनमे IC-board (Intergrated Circuit board) का इस्तेमाल किया जाता था ।
  • Fourth generation computers- इन कम्प्युटर मे LSI (Large Scale Integration) और VLSI (Very Large Scale Integration) चिप का इस्तेमाल होता है। साथ ही इनमे Micro-processors भी लगे होते है जिससे इनके आकार मे कमी और work-capacity मे काफी वृद्धि हुई । इनका उपयोग 1989 तक होता रहा। Micro-processor का विकास M E Hauff ने 1971 मे किया था।
  • Fifth generaton computers- ये अब तक की सबसे Advance कम्प्युटर है जिनमे ULSI (Ultra Large Scale Integration) और optical disk का प्रयोग किया गया है ।

और पढे:- Sound Charging Technology क्या है ?

और पढे:- LCD और LED मे क्या अंतर है ?

और पढे:- Youtube Videos कैसे Download करे ?

हमारे जीवन मे कम्प्युटर का महत्व | Importance of computer in our life

आज के समय मे बिना कम्प्युटर के कुछ भी संभव नही है । हमारा जीवन और कार्य अब पुरी तरह से कम्प्युटर पर निर्भर हो गया है। बडे-बडे कामो को इसकी मदद से पल भर मे बडे आराम से किया जाता है ।

हर स्कूल, कालेज़, ऑफिस, फैक्ट्रीज़, सिनेमाघरो मे कम्प्युटर का इस्तेमाल किया जा रहा है ताकि जीवन को आसान बनाया जा सके । हम घर बैठे मोबाइल के जरिये देश-विदेश मे बात कर सकते है, घर पर ही Online हवाई जहाज की टिकट बुक करवा सकते है ।

ट्रैन और बस की टिकट लेने के लिये अब घंटो लाईन मे खडे होने की जरुरत नही होती है बस मोबाइल और इंटरनेट के माध्यम से कुछ ही पल मे काम हो जाता है। और ना जाने कितने ऐसे काम है जो कम्प्युटर की मदद से काफी आसान हो गये है। सच तो ये है कि अब हम इस कम्प्युटर-युग के आदि हो गये है ।

उम्मिद करता हूँ कि आप समझ चुके होंगे कि कम्प्युटर क्या है ? Computer kya hai in hindi । अगर आपको यह post पसंद आया है तो इसे जरुर share जरुर करे । आप अपने सुझाव comment-box मे दे और ऐसे ही रोचक जानकारी के लिये हमारी वेबसाइट जरुर देखे ।

Prince Kumar
Prince Kumarhttps://hindimeinsamjhe.com
नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम Prince Kumar है और मैं hindimeinsamjhe.com का संस्थापक और लेखक हूँ । मुझे नई-नई चीज़ो के बारे मे जानना -समझना और उसे Share करना बहुत पसंद है । ये website मेरी एक छोटी सी कोशिश है जिसके माध्यम से मैं अपने ज्ञान को आपके साथ Share करने की कोशिश की है । यहाँ मैं नई-नई तकनिक और दैनिक जीवन से जुडी सभी नई जानकारी हिंदी भाषा मे आपके साथ साझा करने की कोशिश करता हूँ । अतः आपसे आग्रह है कि आप मेरी वेबसाइट देखे और अपने सुझाव Comment Box मे जरुर दे । धन्यवाद !

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

More article